Judai Shayari

मोहब्बत भी कभी वह रस्ते मुड़ लेते है जिसका कभी कल्पना भी ना हुआ, एक प्यारी सी रिश्तो में भी ऐसा दुरैया बन जायेगा वह किसीको ना था पता. पर किया करे नसीब का रंग कब रंगाली और कब काला बादल लाये किसको पता होता है, ये इश्क़ मोहब्बत तोह हर किसीको कभी न कभी … Read more