Maa Shayari

Friends, today we have written poetry on mother, we have tried to tell about her importance in life by writing poetry about mother. When we come to this world, we come only because of our mother.

Nor does it teach us the first language, it shows us the way to live life, without it life becomes dull, it is difficult to imagine this world without a mother. Mother has so much benevolence in our life that even if we serve her whole life, it is less. We can get angry on small things but the mother never gets angry with us.

इस दुनिया में लोग भी कितने अजीब होते है जो माँ अपनी जान पर खेलके एक औलाद को जनम देती आज वही माँ के लिए कोई औलाद पूछता ही नहीं. जो माँ खुद न कहके कुछ भी अपनी औलाद को खिलाता है आज उसी के लिए एक वक़्त लिए रोटी नहीं है. क्यों आपको कोई गलत फेमी लग रही होगा न? पर ये आज का सचाई जो है. लेकिन आप तो अपनी माँ से बहुत प्यार करती हो इसीलिए माँ के लिए शायरी जो ढूंढ़ती हुई हमारी पेज पे आयी हो.

हर किसीको अपनी माँ अछि लगती है चाहे वह कितनी भी क्यों न डांटे, और बिन डाटे माँ कभी भी प्यारी नहीं होती है. अपने बच्चे के लिए बहुत कुछ करती है जो हमें दिखाई नहीं देता. आज वही माँ के लिए शायरी लायी हो. मुझे पता है आप भी अपनी माँ से बहुत प्यार करती है जो कभी कभी उनको बता नहीं पाते हो स्याद.

तू आप उनको ये शायरी बेझ के उनके दिल को खुश कर दो जो, आप उनसे प्यार से खाना चाहते हो ई लव यू माँ. माँ शायरी कोट्स इमेजेज भी कभी अपनी माँ को सेंड किया करो जिस तरीके से अपनी बहन या भाई को शेयर करते है Sister Shayari और भाई शायरी

Maa Shayari In Hindi

चलती फिरती आँखों से अज़ाँ देखी है,
मैंने जन्नत तो नहीं देखी है माँ देखी है

Chalti Firti Aankhon Se Azaan Dehi Hai,
Maine Jannat To Nahi Dekhi Hai Maa Dekhi Hai.

मुझे माफ़ कर मेरे या खुदा
झुक कर करू तेरा सजदा
तुझसे भी पहले माँ मेरे लिए
ना कर कभी मुझे माँ से जुदा!

mujhe maaf kar mere ya khuda
jhuk kar karoo tera sajada
tujhase bhee pahale maan mere lie
na kar kabhee mujhe maan se juda!

जिसके होने से मैं खुद को मुक्कम्मल मानता हूँ,
में खुदा से पहले मेरी माँ को जानता हूँ।

jisake hone se main khud ko mukkammal maanata hoon,
mein khuda se pahale meree maan ko jaanata hoon.

माँ की अजमत से अच्छा जाम क्या होगा,
माँ की खिदमत से अच्छा काम क्या होगा,
खुदा ने रख दी हो जिस के कदमो में जन्नत,
सोचो उसके सर का मुकाम क्या होगा।

maa kee ajamat se achchha jaam kya hoga,
maan kee khidamat se achchha kaam kya hoga,
khuda ne rakh dee ho jis ke kadamo mein jannat,
socho usake sar ka mukaam kya hoga.

मां वो सितारा है जिसकी गोद में जाने के लिए हर कोई तरसता है,
जो मां को नहीं पूछते वो जिंदगी भर जन्नत को तरसता है।

maa vo sitaara hai jisakee god mein jaane ke lie har koee tarasata hai,
jo maan ko nahin poochhate vo jindagee bhar jannat ko tarasata hai.

Maa Ke Liye Shayari

रब से करू दुआ बार-बार
हर जन्म मिले मुझे माँ का प्यार
खुदा कबूल करे मेरी मन्नत
फिर से देना मुझे माँ के आंचल की जन्नत।

rab se karoo dua baar-baar
har janm mile mujhe maan ka pyaar
khuda kabool kare meree mannat
phir se dena mujhe maan ke aanchal kee jannat.

माँ पहले आँसू आते थे तो तुम याद आती थी,
आज तुम याद आती हो और आँसू निकल आते है।

Maa Pehle Aansu Aate The To Tum Yaad Aati Thi,
Aaj Tum Yaad Aati Ho Aur Aansu Nikal Aate Hai.

नहीं हो सकता कद तेरा ऊँचा किसी भी माँ से ऐ खुदा,
तू जिसे आदमी बनाता है, वो उसे इंसान बनाती है।

nahin ho sakata kad tera ooncha kisee bhee maan se ai khuda,
too jise aadamee banaata hai, vo use insaan banaatee hai.

कोई दुआ असर नहीं करती,
जब तक वो हम पर नजर नहीं करती,
हम उसकी खबर रखे न रखे,
वो कभी हमें बेखबर नहीं करती।

koee dua asar nahin karatee,
jab tak vo ham par najar nahin karatee,
ham usakee khabar rakhe na rakhe,
vo kabhee hamen bekhabar nahin karatee.

Maa Shayari Quotes

जज्बात माँ के संग माँ जिक्र तुम्हारा मेरे ख्यालों में,
मेरी ही अधूरी परछाई बनकर आता है,
बिना तुम्हारे मेरी शख्सियत को,
ज़िन्दगी का नज़राना भी नहीं देख पता है।

jajbaat maan ke sang maan jikr tumhaara mere khyaalon mein,
meree hee adhooree parachhaee banakar aata hai,
bina tumhaare meree shakhsiyat ko,
zindagee ka nazaraana bhee nahin dekh pata hai.

कभी मुस्कुरा दे तो लगता है ज़िंदगी मिल गयी मुझको,
माँ दुखी हो तो दिल मेरा भी दुखी हो जाता है।

kabhee muskura de to lagata hai zindagee mil gayee mujhako,
maan dukhee ho to dil mera bhee dukhee ho jaata hai.

हँसकर मेरा हर गम भुलाती है माँ,
मैं रोता हूँ तो सीने से लगाती है माँ,
बहुत दर्द दिया है इस ज़माने ने मुझको,
सबकुछ झेलकर जीना सिखाती है माँ.

hansakar mera har gam bhulaatee hai maan,
main rota hoon to seene se lagaatee hai maan,
bahut dard diya hai is zamaane ne mujhako,
sabakuchh jhelakar jeena sikhaatee hai maan.

ज़रा सी बात है लेकिन हवा को कौन समझाए
दीए से मेरी माँ मेरे लिए काजल बनाती है

zara see baat hai lekin hava ko kaun samajhae
deee se meree maan mere lie kaajal banaatee hai.

ज़िन्दगी में ऊपर वाले से इतना जरूर मांग लेना की,
माँ के बिना कोई घर ना हो और कोई माँ बेघर ना हो।

zindagee mein oopar vaale se itana jaroor maang lena kee,
maan ke bina koee ghar na ho aur koee maan beghar na ho.

माँ ना होगी तो वफ़ा कौन करेगा,
ममता का हक़ भी अदा कौन करेगा….
रब हर एक माँ को सलामत रखना,
वरना हमारे लिए दुआ कौन करेगा

maan na hogee to vafa kaun karega,
mamata ka haq bhee ada kaun karega….
rab har ek maan ko salaamat rakhana,
varana hamaare lie dua kaun karega

Mother Shayari  In Hindi

इस एहसान फरामोशों के मेले में,
एक दिल सच्चा सा चाहते है,
माँ के जैसा निस्वार्थ प्रेम करने वाला,
एक साथी हम सच्चा चाहते हैं।

is ehasaan pharaamoshon ke mele mein,
ek dil sachcha sa chaahate hai,
maan ke jaisa nisvaarth prem karane vaala,
ek saathee ham sachcha chaahate hain.

मैं क्यों न लिखूं मेरी माँ पर जिसने मुझें लिखा हैं,
मैंने इस दुनिया में सबसे पहले माँ बोलना ही सीखा हैं।

main kyon na likhoon meree maan par jisane mujhen likha hain,
mainne is duniya mein sabase pahale maan bolana hee seekha hain.

माँ कर देती है पर गिनाती नहीं है,
वो सह लेती है पर सुनाती नहीं है।

maa kar detee hai par ginaatee nahin hai,
vo sah letee hai par sunaatee nahin hai.

माँ तेरी याद सताती है मेरे पास आ जाओ,
थक गया हूँ मुझे अपने आँचल मे सुलाओ,
उंगलियाँ अपनी फेर कर बालो में मेरे,
एक बार फिर से बचपन कि लोरियां सुनाओ।

maa teree yaad sataatee hai mere paas aa jao,
thak gaya hoon mujhe apane aanchal me sulao,
ungaliyaan apanee pher kar baalo mein mere,
ek baar phir se bachapan ki loriyaan sunao.

कही हो जाये ना घर की मुसीबत लाल को मालूम,
छुपा कर तकलीफें तेरा मुस्कुराना याद आता है।
जब आये थे तुझे हम छोड़ कर परदेश मेरी माँ,
मुझे वो तेरा बहुत आंसू बहाना याद आता है।

kahee ho jaaye na ghar kee museebat laal ko maaloom,
chhupa kar takaleephen tera muskuraana yaad aata hai.
jab aaye the tujhe ham chhod kar paradesh meree maan,
mujhe vo tera bahut aansoo bahaana yaad aata hai.

Maa Shayari Images

मेरे हिस्से में गमों का बड़ा खसारा रहता है मुझे माँ
की दुआओं का सहारा रहता है मेरी ख्वाहिशें दुआ से पहले होती है
कबूल मेरे नसीब में हर वक्त टुटा सितारा रहता है

mere hisse mein gamon ka bada khasaara rahata hai mujhe maan
kee duaon ka sahaara rahata hai meree khvaahishen dua se pahale hotee hai
kabool mere naseeb mein har vakt tuta sitaara rahata hai

हर रिश्ते में हमने मिलावट देखि
कच्चे रंगो की सजावट देखि
लेकिन माँ के चहेरे पर न थकान देखि
न ममता में कभी मिलावट देखि

har rishte mein hamane milaavat dekhi
kachche rango kee sajaavat dekhi
lekin maan ke chahere par na thakaan dekhi
na mamata mein kabhee milaavat dekhi

पूछता है जब कोई मुझसे कि
दुनिया में मोहब्बत अभी बची है कहां?
मुस्कुरा देता हूं मैं और याद आ जाती है माँ

poochhata hai jab koee mujhase ki
duniya mein mohabbat abhee bachee hai kahaan?
muskura deta hoon main aur yaad aa jaatee hai maan

वो माँ ही होती हे जिसके होते
हमारी ज़िन्दगी में कोई ग़म नहीं होता
दुनिया चाहे साथ दे या न दे लेकिन
माँ का प्यार कभी कम नहीं होता

vo maan hee hotee he jisake hote
hamaaree zindagee mein koee gam nahin hota
duniya chaahe saath de ya na de lekin
maan ka pyaar kabhee kam nahin hota

मेरी ज़िन्दगी में एक भी ग़म न होता
अगर किस्मत लिखने का हक़
मेरी माँ को मिलता होता।

meree zindagee mein ek bhee gam na hota
agar kismat likhane ka haq
meree maan ko milata hota.

Maa Shayari Messages

मजिल दूर और सफल बहुत है
छोटी सी जिंदगी की फिक्र बहुत है
मार डालती यह दुनिया कब की हमें
लेकिन माँ की दुआओ मे असर बहुत है।

majil door aur saphal bahut hai
chhotee see jindagee kee phikr bahut hai
maar daalatee yah duniya kab kee hamen
lekin maan kee duao me asar bahut hai.

आज रोटी के पीछे भागता हु
तब याद आता हे मुझे की
रोटी खिलाने के लिए माँ
मेरे पीछे भागती थी।

aaj rotee ke peechhe bhaagata hu
tab yaad aata he mujhe kee
rotee khilaane ke lie maan
mere peechhe bhaagatee thee.

अगर आपको ये माँ शायरी पसंद आयी है तोह हमें फॉलो करते रहना. हम हर रोज शायरी अपलोड करते रहते है इस वेबसाइट पे, और हमारे हर एक पोस्ट को जरूर देखना. पर कभी भी अपनी माँ बाप को दुःख में देना, क्यूंकि माँ बाप ही भगबान होती है और आपको पता ही है माँ कितना अहम् है सबके लिए.

2 thoughts on “Maa Shayari”

  1. Pingback: Sad Shayari In Hindi

  2. Pingback: Father Shayari

Leave a Comment

Your email address will not be published.